* आक्रोष4मीडिया भारत का नंबर 1 पोर्टल हैं जो की पत्रकारों व मीडिया जगत से सम्बंधित खबरें छापता है ! आक्रोष4मीडिया को सभी पत्रकार भाइयों की राय और सुझाव की जरूरत है ,सभी पत्रकार भाई शिकायत, अपनी राय ,सुझाव मीडिया जगत से जुड़ी सभी खबरें aakrosh4media@gmail.com व वव्हाट्सएप्प पर भेजें 9897606998... |संपर्क करें 9411111862 .खबरों के लिए हमारे फेसबुक आई.डी https://www.facebook.com/aakroshformedia/ पर ज़रूर देखें *

तिजोरी भरने में भावनाओं को तिलांजलि !

01-01-2018 10:04:38 पब्लिश - एडमिन



मुनाफाखोरी को धर्म बना चुके विज्ञापन जगत ने मान-मर्यादाओं को किस तरह ताक पर रखा इसके कई नमूने गुजरे साल में पब्लिक के सामने आये जिन्हें लेकर गुस्सा भी फूटा। सुखी वैवाहिक जीवन से लेकर हेयर स्टाइल और स्वादिष्ट वस्तुओं के विज्ञापनों में इस्तेमाल की गई भाषा और फोटोग्राफी पर लोग इतने दुखी हुए कि उन्होंने सरकार से विज्ञापनों पर रोक की मांग की। सरकार को कदम उठाने को मजबूर भी होना पड़ा। विज्ञापन जगत की मुनाफोखोरी का सबसे शर्मनाक उदाहरण उस समय सामने आया जब देवी देवताओं को सैलून में हेयर स्टाइल बनवाने आता दिखाया गया तो खाद्य सामग्री बनाने वाली एक कम्पनी ने अलग अलग धर्मो के आराध्य समझे जाने वाले देवी देवताओं को एक टेबल पर मांस खाते हुए दिखा दिया। इन सभी विज्ञापनों पर हो हल्ला मचा। 
बात करते हैं पहले विज्ञापन की। पोर्न फिल्मो में नाम और दाम कमा चुकी सनी लियोनी का बालीवुड में एन्ट्री काफी अच्छी रहीं। सनी बाजार की जरूरतों पर टिके विज्ञापन जगत के लिए आकर्षण का केन्द्र रही। सनी के ग्लैमरस के बूते मैनफोर्स कंडोम बनाने वाली कम्पनी ने उन्हें लेकर जो विज्ञापन पेश किया उसे लेकर जनता में तीखी प्रतिक्रिया हुई। गुजरात में सबसे ज्यादा धूमधाम और उत्साह से मनाये जाने वाले नवरात्र पर्व के मौके पर मैनफोर्स कंडोम के हार्डिंग को लेकर लोग सड़कों पर उतरे। अहम पर्व के मौके पर लगाये गये मैनफोेर्स कंडोम के हार्डिंग को लोगांे ने धार्मिक भावनाओं के खिलाफ करार देते हुए उतारने की जोरदार मांग की जिसके बाद पूरे गुजरात से लगभग पांच सौ हार्डिंग उतरवाये गये।
जानी मानी फूड सर्विस मुहैया कराने वाली एक वेबसाइट जोमैटो का एक विज्ञापन द्विअर्थी शब्दों को लेकर विवादों में फंसे। कम्पनी ने खाद्य सामग्री के प्रति लोगों को आकर्षित करने के लिए बीसी और एमसी शब्दों का इस्तेमाल किया उन्हें आमतौर पर लोग गाली के तौर पर इस्तेमाल करते हैं। हालांकि कम्पनी ने बाद में सफाई देकर बताया कि बीसी का मतलब बटर चिकन और एमसी का मतलब मेक एंड चीज है। कम्पनी की सफाई के बावजूद लोगों का गुस्सा शांत नहीं हुआ। आखिरकार कम्पनी को वह विज्ञापन हटाने को मजबूर होना पड़ा। 
जोमैटोे के नक्शे कदम पर चलते हुए मशहूर हेयर स्टाइलिस्ट जावेद हबीब ने अपने हेयर सैलून में हिन्दू देवी देवताओं का चित्र इस्तेमाल किया जिसे लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं ने नाराजगी का इजहार किया। भाजपा कार्यकर्ताओं ने हबीब के सैलून में स्याही फेंककर गुस्सा जताया। लोगों की नाराजगी को देखते हुए जावेद हबीब ने न केवल विज्ञापन को हटाया बल्कि माफी मांग कर विवाद पर विराम लगाया।
विवादित विज्ञापनों का सिलसिला देश में ही नहीं बल्कि देश की सरहदों के पार भी चला। विवादित विज्ञापनांे की कड़ी में मीट एंड लाइवस्टाक आस्टेªलिया के विज्ञापन में तो मर्यादाओं और सनातन धर्म के अनुयायियों की भावना पर कुठाराघात करते हुए भगवान गणेश को मेमने का मांस खाते हुए दर्शाया गया। यही न हीं एक जगह तो भगवान गणेश के साथ साथ ईसा मसीह, भगवान बुद्ध और थाॅर आदि महापुरूषों को एक टेबल पर मेमने का मांस खाते हुए दिखाया गया। इन विज्ञापनों पर आस्टेªलिया में रहने वाला हिन्दू समाज भड़क गया और कड़ा एतराज जताया। आस्ट्रेलिया स्थित भारतीय उच्चायुक्त ने भी इस पर आपत्ति व्यक्त की। जनाक्रोश को देखते हुए इस विज्ञापन को भी हटाया गया।

अपनी राय नीचे दिये हुए कमेंट बॉक्स में लिखें !