* आक्रोष4मीडिया भारत का नंबर 1 पोर्टल हैं जो की पत्रकारों व मीडिया जगत से सम्बंधित खबरें छापता है ! आक्रोष4मीडिया को सभी पत्रकार भाइयों की राय और सुझाव की जरूरत है ,सभी पत्रकार भाई शिकायत, अपनी राय ,सुझाव मीडिया जगत से जुड़ी सभी खबरें aakrosh4media@gmail.com व वव्हाट्सएप्प पर भेजें 9897606998... |संपर्क करें 9411111862 .खबरों के लिए हमारे फेसबुक आई.डी https://www.facebook.com/aakroshformedia/ पर ज़रूर देखें *

पांचजन्य व आर्गनाईजर के स्पेशल एडिशन लांच

28-01-2018 17:40:51 पब्लिश - एडमिन



नई दिल्ली। प्रकाशन के सात दशक पूरे कर चुके आरएसएस के मुख पत्र कहे जाने वाले ‘‘पांचजन्य’’ और ‘‘आर्गनाइजर’’ के विशेष संस्करण लांच किये गये। मैगजीन फारमेट में प्रकाशित होने वाले दोनो अखबारों के विशेष संस्करण के विमोचन अवसर पर सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी और संघ के प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य मौजूद रहे। 

संघ के अंग्रेजी में प्रकाशित ‘आर्गनाइजर’ की शुरूआत 1947 में हुई थी और अगले साल ही हिन्दी संस्करण ‘पांचजन्य’ का प्रकाशन आरम्भ हुआ था। सात दशक का सफर पूरा करने के बाद एक ही समारोह का आयोजन किया गया। समारोह का आयोजन त्रिमूर्ति भवन के नेहरू मैमोरियल सभागार में सम्पन्न हुआ था जिसकी सर्वत्र चर्चा रही। आर्गनाइजर के सम्पादकों में ए.आर. नायर, के. आर. मलकानी, एल. के. आडवाणी, वी. पी. भाटिया, शेषाद्रीचारी और आर. बालाशंकर जैसे दिग्गज शामिल हैं। वर्तमान में प्रफुल्ल् केतकर सम्पादक का दायित्व संभाले हुए हैं। संघ के हिन्दी मुख पत्र ‘पांचजन्य’ का शुभारम्भ मकर संक्रान्ति के दिन प. दीनदयाल उपाध्याय ने किया था। इसके पहले सम्पादक पूर्व पीएम और भारतीय राजनीति के पुरोधा माने जाने वाले अटल बिहारी वाजपेयी बनाये गये थे। तरुण विजय के बाद आजकल हितेश शंकर पांचजन्य के सम्पादक हैं। पूर्व में कई साल तक ‘इंडिया टूडे’ में काम कर चुके जगदीश उपासने समूह सम्पादक की जिम्मेदारी संभाले हुए हैं। 

समारोह को सम्बोधित करते हुए मनमोहन वैद्य ने कहा कि पंाचजन्य और आर्गनाइजर दोनों ही पत्रों ने भारत की पहचान देने का काम अन्जाम दिया है। इनके प्रकाशन का नाम भी ‘भारत प्रकाशन’ है। उन्होंने कहा कि संघ की भारतीयता के प्रति आग्रह और राष्ट्रवादी सोच इन दोनो समाचार पत्रों से मिलती है। जिस तरह संघ आध्यात्मिकता के मार्ग से समृद्धि लाना चाहता है, ये दोनो समाचार पत्र उसी आध्यात्मिकता के विचारों को आगे बढ़ाते आ रहे हैं।केन्द्रीय सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने इस मौके पर कहा कि दोनों समाचार पत्रों का 70 वां विशेषांकों का विमोचन करने वाला कार्यक्रम का आयोजन सोच से परे हैं। केन्द्रीय सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि विज्ञापन की लालसा त्याग कर दोनों समाचार पत्रों ने राष्ट्रवाद के रास्ते का अपनाया। इस मौके पर उन्होंने सम्पादकों को प्रान्तीय भाषाओं में दोनों पत्रो का प्रकाशन करें। इस अवसर पर कई पुराने कर्मचारियों को भी सम्मानित किया गया। इस दौरान संघ से जुड़े प्रकाशन समूहों के लोग भी मौजूद रहे।


आक्रोष4मीडिया भारत का नंबर 1 पोर्टल हैं जो की पत्रकारों व मीडिया जगत से सम्बंधित खबरें छापता है ! आक्रोष4मीडिया को सभी पत्रकार भाइयों की राय और सुझाव की जरूरत है ,सभी पत्रकार भाई शिकायत, अपनी राय ,सुझाव मीडिया जगत से जुड़ी सभी खबरें aakrosh4media@gmail.com व वव्हाट्सएप्प पर भेजें 9897606998... |संपर्क करें 9411111862 .खबरों के लिए हमारे फेसबुक आई.डी https://www.facebook.com/aakroshformedia/ पर ज़रूर देखें   

अपनी राय नीचे दिये हुए कमेंट बॉक्स में लिखें !