मजीठिया वेज बोर्ड- दिव्य भास्कर के १०६ कर्मचारियों के पक्ष में रिकवरी सार्टिफिकेट जारी

29-12-2017 9:48:57 पब्लिश - एडमिन



गुजरात के अहमदाबाद से एक बड़ी खबर आरही है । यहां दैनिक भाष्कर की प्रबंधन कंपनी डी बी कार्प के गुजराती अखबार दिव्य भाष्कर के १०६ कर्मचारियों के समर्थन में लेबर विभाग ने रिकवरी सार्टिफिकेट जारी किया है। ये कर्मचारी अहमदाबाद के अलावा उत्तर गुजरात के भी हैं। इन कर्मचारियोंं ने डी बी कार्प के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी। गुजराती अखबार दिव्य भाष्कर के जयेश लीला भाई प्रजापति और चंद्रकांत आशीष कुमार कड़िया के मुताबिक डी बी कार्प के खिलाफ जैसे ही उन्होने कंपनी से मजीठिया वेज बोर्ड की मांग की कंपनी ने उन्हे और कुल १०६ लोगों को धीरे धीरे करके टर्मिनेट कर दिया। ये सभी १०६ साथी हिम्मत नहीं हारे और लेबर विभाग, हाईकोर्ट और सुप्रीमकोर्ट तक अपने अधिकार के लिये लड़ाई लड़ते रहे और सुप्रीमकोर्ट के आदेश पर वे वापस लेबर विभाग आये जहां लेबर विभाग ने इन सभी कर्मचारियों के पक्ष को गंभीरता से लिया और १०६ लोगों की रिकवरी सार्टिफिकेट जारी कर दिया। इन कर्मचारियों की तरफ से हाईकोर्ट में उनका पक्ष रखा एडवोकेट अमरीश पटेल ने जबकि सुप्रीमकोर्ट में उनका पक्ष रखा सिनीयर एडवोकेट कोलिन गोंसाल्विस ने। इन  कर्मचारियों में उत्तर गुजरात के ३२ लोगों ने भी क्लेम लगाया था। इन सभी कर्मचारियों ने अपने एडवोकेट के जरिये हाईकोर्ट मेंं कैविएट भी लगा दिया है जिससे कंपनी प्रबंधन को स्टे आसानी से नहीं मिल सके। इतनी भारी संख्या में रिकवरी सार्टिफिकेट जारी होने से डी बी कार्प प्रबंधन में हड़कंप का माहौल है। इन कर्मचारियों ने दस से तीस लाख रुपये प्रतिकर्मचारी का क्लेम लगाया है। 

शशिकांत सिंह 
पत्रकार और आरटीआई एक्सपर्ट 
९३२२४११३३५

अपनी राय नीचे दिये हुए कमेंट बॉक्स में लिखें !