* आक्रोष4मीडिया भारत का नंबर 1 पोर्टल हैं जो की पत्रकारों व मीडिया जगत से सम्बंधित खबरें छापता है ! आक्रोष4मीडिया को सभी पत्रकार भाइयों की राय और सुझाव की जरूरत है ,सभी पत्रकार भाई शिकायत, अपनी राय ,सुझाव मीडिया जगत से जुड़ी सभी खबरें aakrosh4media@gmail.com व वव्हाट्सएप्प पर भेजें 9897606998... |संपर्क करें 9411111862 .खबरों के लिए हमारे फेसबुक आई.डी https://www.facebook.com/aakroshformedia/ पर ज़रूर देखें *

खबरों के शहंशाह प्रसून खुद बने सबसे बड़ी खबर

06-03-2018 19:29:16 पब्लिश - एडमिन


नई दिल्ली। खबरिया चैनलों की दुनिया का जाना माना चेहरा पुण्य प्रसून वाजपेयी इन दिनों खुद मीडिया जगत की खबर बन गये हैं। सत्ता के खिलाफ मुखर रहने वाले मशहूर पत्रकार और एंकर पुण्य प्रसून वाजपेयी के ंइंडिया टुडे ग्रु्रप से अलग होने की खबर इन दिनों मीडिया जगत की सबसे बड़ी खबर बनी हुई है। उनके शीध्र ही एबीपी न्यूज से जुड़ने की बात कही जा रही है जबकि ‘‘आजतक’’ पर प्रसारित होने वाली चर्चित शो की कमान सत्ता के मिजाज के मुताबिक बोलने वाली एंकर के रूप में पहचान बना चुकी अजंना ओम कश्यप् को सौंपे जाने की चर्चा जोरों पर है। आजतक पर बहुचर्चित यह शो सोमवा से शुक्रवार तक हर रात दस बजे प्रसारित होता था। अपनी विशिष्ट शैली और शब्दों का संतुलित चयन के जरिये इस शो का कामयाबी के शिखर पर पहुंचाने वाले पुण्य प्रसून वाजपेयी के बाद अंजना ओम कश्यप इस शो को किस मुकाम पर ले जायेंगी यह तो भविष्य के गर्भ में है लेकिन वाजपेयी की नजरे अब एबीपी पर लगी हैं कि वाजपेयी किस शो के दस्तक देते हैं।
पुण्य प्रसून वाजपेयी के आजतक से अलग होने को लेकर अलग अलग तरह की चर्चाओं का सिलसिला चल रहा है। कहा जा रहा है कि चूंकि उनके शो को सत्ता के मिजाज के खिलाफ माना जाता था जिससे सरकार उनसे नाराज थी तो दूसरी चर्चा यह भी गूंज रही है कि दुबई में सिने तारिका श्रीदेवी की मौत को लेकर आजतक पर चले लाइव शो को लेकर वाजपेयी और आउटपुट हेड मनीष कुमार के साथ उनके साथ मतभेद हो गये थे। अपनी स्क्रिप्ट पर खुद एंकरिग करने वाले पुण्य प्रसून वाजपेयी ने लाइव शो के दरम्यान प्रसारण के मकसद से एक पैकेज तैयार किया था लेकिन मनीष का तर्क था कि लाइव शो को देखने के शौकीन पैकेज के प्रसारण से अन्य चैनलों को स्वीच कर सकते हैं। इसी बात को लेकर वाजपेयी और मनीष के बीच मनमुटाव हो गया था। बहरहाल वजह जो भी रही हो लेकिन सच यही है कि 10 बजे दस्तक के जरिये पत्रकारिता के तल्ख तेवरों के साथ हाजिर होने वाले पुण्य प्रसून वाजपेयी अब आजतक पर नजर नहीं आयेंगे।
पुण्य प्रसून वाजेपयी को नाम ऐसे चुनींदा पत्रकारों में शुमार किया जाता है जिन्होंने बाजारवाद में तब्दील हो चुकी पत्रकारिता में मानवीय संवेदनाओं और सामाजिक सरोकारों को बरकरार रखा। उनकी पत्रकारिता और एकरिंग ने देश के नम्बर वन चैनल ‘आजतक’ के सर्वाधिक देखे जाने वाले शो ‘‘दस्तक’’ से देश और समाज से जुडे अलग अलग ज्वलन्त विषयों पर जन अभिरूचि की पत्रकारिता को पोषित किया। अब पुण्य प्रसून वाजपेयी ऐसे चैनल से जुडने जा रहे हैं जो टीआरपी की दौड़ में काफी पिछड़ा हुआ है। यह और बात है कि एबीपी की ओर से पुण्य प्रसून वाजपेयी के जुडने की पुष्टि नहीं की गयी है। पुण्य प्रसून वाजपेयी के लिए एबीपी न्यूज किस शो को पेश करेगा और उसकी जगह किस शो को बंद किया जायेगा इस बारे में जल्द की स्थिति साफ होगी।
बहरहाल संवेदनाओं और सामाजिक सरोकारों से गहराई से जुडे पुण्य प्रसूूून वाजपेयी की विदाई से आजतक के दर्शक दुखी हैं। वाजपेयी के फैन्स को उनके शो का बेसब्री से इन्तजार है। असरदार तरीके से अन्तर्मन को स्पर्श करने वाले प्रस्तुतीकरण के महारथी पुण्य प्रसून वाजपेयी भारतीय मीडिया का एक ऐसा पत्रकार और एंकर बन चुके हैं जिन्हें लाखों दर्शक देखना और सुनना पसंद करते हैं। पिछले दिनों उन्होंने एक शो में प्रख्यात योगगुरू बाबा रामदेव के ट्रस्ट पर सवाल उठाकर उन्हें आक्रोशित कर दिया था। वह वाजपेयी ही थे जिन्होंने बाबा रामदेव के आभामंडल से प्रभावित हुए बिना सहज भाव से सवाल किया था कि क्या ट्रस्ट बनाना कर अदायगी से बचने का तरीका तो नहीं! पुण्य प्रसून वाजपेयी के इस सवाल पर बाबा रामदेव भडक गये थे।

अपनी राय नीचे दिये हुए कमेंट बॉक्स में लिखें !