* आक्रोष4मीडिया भारत का नंबर 1 पोर्टल हैं जो की पत्रकारों व मीडिया जगत से सम्बंधित खबरें छापता है ! आक्रोष4मीडिया को सभी पत्रकार भाइयों की राय और सुझाव की जरूरत है ,सभी पत्रकार भाई शिकायत, अपनी राय ,सुझाव मीडिया जगत से जुड़ी सभी खबरें aakrosh4media@gmail.com व वव्हाट्सएप्प पर भेजें 9897606998... |संपर्क करें 9411111862 .खबरों के लिए हमारे फेसबुक आई.डी https://www.facebook.com/aakroshformedia/ पर ज़रूर देखें *

चर्चित पत्रकार द्वारा रकम मांगने की रिकार्डिंग एसएसपी को

02-01-2018 21:39:16 पब्लिश - एडमिन



हरिद्वार। पूर्व में एक हत्याकांड में संलिप्त प्रापर्टी डीलर से नजदीकियों के चलते चर्चाओं मे रहने वाले एक बड़े अखबार के चर्चित युवा पत्रकार की पैसे की मांग करते हुए कुछ तस्वीरंे पुलिस को उपलब्ध करा दी गई है। पूर्व में भी पुलिस जांच के दायरे में आ चुके इस पत्रकार को पुलिस को उपलब्ध कराई गई रिकार्डिंग में हाल ही में राठी गैंग के प्रापर्टी सम्बन्धी धंधों को अन्जाम देने में कथित संलिप्तता के चलते पुलिस के राडार पर आये कनखल निवासी एक प्रापटी डीलर से पैसे की मांग करते हुए दिखाया गया है। हरिद्वार के पत्रकार जगत में एक बार फिर प्रापटी डीलिंग से जुड़े कारोबारियों के साथ मीडियाकर्मियों की उगाही की चर्चा बड़े जोर शोर से चल रही है। गौरतलब है कि महन्त सुधीर गिरी हत्याकांड में पुलिस द्वारा अरैस्ट किये गये नामचीन प्रापर्टी डीलर से करीबी सम्बन्धों के चलते जिन मीडियाकर्मियों के लाभान्वित होने वाले पत्रकारों का नाम पुलिस के सामने आया था उनमें भी इस युवा पत्रकार का नाम शामिल था। प्रापर्टी डीलिंग के धंधे में दूसरी बार फिर पुलिस के सामने इस करतूत की उजागर होने से हरिद्वार का पत्रकार जगत स्तब्ध है। कुछ पत्रकार दबी जुबान में स्वीकार करते हैं कि हरिद्वार में खनन से लेकर अवैध शराब कारोबारियों और प्रापर्टी डीलरों से उक्त पत्रकार के तार जुड़े हैं। दो नम्बर का धंधा करने वाले लोगों से पैसे वसूलने में उक्त पत्रकार को एक्सपर्ट माना जाता है। शहर के कई अन्य पत्रकार भी उसके संगी साथी बताये जाते हैं जो उसके माध्यम से लाभान्वित होते हैं। एसएसपी को दी गई रिकार्डिंग से इन पत्रकारों की नींद भी उड़ी हुई है। चर्चाओं पर भरोसा करे तो पूर्व एसएसपी से अभयदान दिलाने में मुख्य भूमिका निभाने वाले वरिष्ठ पत्रकार इस बार उक्त पत्रकार की सिफारिश करने से कतरा रह हैं।
हरिद्वार के मीडिया जगत में कानाफूसियों का दौर जारी है लेकिन कोई भी खुलकर नहीं बोल रहा। बताते हैं कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को उपलब्ध कराई गई रिकार्डिंग में उक्त युवा पत्रकार को साफ तौर पर रकम की डिमांड करते हुए सुना जा रहा है। उल्लेखनीय है कि एसएसपी को रिकार्डिंग उपलब्ध कराने वाले प्रापर्टी डीलर से पुलिस राठी गैंग से नजदीकियों के चलते सघन पूछताछ कर चुकी है। देखना यह है कि क्या बड़े अखबार से जुड़ा होने के कारण उक्त मीडियाकर्मी को फिर अभयदान मिलता है या एसएसपी प्रभावी कार्रवाई करते हैं! मीडियाकर्मियों की नजरें पुलिस के भावी कदमों पर टिकी हुई हैं। 
 

अपनी राय नीचे दिये हुए कमेंट बॉक्स में लिखें !