* दादा का अंतिम संस्कार करके लौट रहे मुंबई के पत्रकार प्रशांत त्रिपाठी की मौत * * एक चपरासी ने चटाई लोकमत को धूल हाईकोर्ट ने दिया १२ लाख रुपये देने का निर्देश  * * अब भारत के पत्रकार संगठित हो चलें हैं अब इनकी संगठित ताकत अपना इतिहास बदल कर रख देगीः घनश्याम प्रसाद सागर * * मजीठिया मामला - राज्यपाल के सचिव ने दिया डी. बी. कॉर्प के खिलाफ जाच का अादेश * * डीवी कार्प के खिलाफ पीएफ विभाग ने शुरु की जांच  * * भारत सरकार केश्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने दिये डी.बी.कार्प के खिलाफ कार्रवाई का आदेश * * पत्रकारों पर पुलिस ने तानी राइफल सकी पत्रकार घायल ! * * बिहार के वरिष्ठ पत्रकार भाई राधेश्याम ठाकुर नहीं रहे ! *

सांसद पर एफआईआर दर्ज कराने की तहरीर..।

04-11-2017 9:01:26 पब्लिश - एडमिन


रिपोटर- शिव कुमार 

स्थान-मऊ

मऊ जिले के घोसी लोकसभा के सासदं हरीनारायण राजभर ने जिले के चार पत्रकारो पर अवैध खनन करने वाले माफियाओ का सहयोग करने के मामले में फर्जी मुकदमा दर्ज कराया है । पुरा मामला था सासदं ने मुख्यमन्त्री व पुलिस को दी थी भद्दी भद्दी गालिया जो मीडिया के कैमरे में रिकार्ड हुआ था जिसको मीडिया ने प्रमुखता के दिखाया था । जिसको सासंद ने खबर टेलीकास्ट नही करने की दी थी धमकी पत्रकारो ने सासंद के मुख्यमन्त्री को गाली देने के मामले में किया बेनकाब जिसके विरोध में सासंद ने पत्रकारो पर दर्ज कराया मुकदमा , जिसका विरोध करते हुए आज पत्रकारो ने बैठक कर सासंद के खिलाफ कोतवाली में एफआईआर दर्ज कराने की दी तहरीर ।


मऊ जिले में चल रहे अवैध खनन को रोकने के लिए स्थानीय सासदं हरीनारायण राजभर 25 अक्टूबर को छापेमारी करके कई गाडियो को छापेमारी करके पकडा और पुलिस को सूचना देकर बन्द करा दिया । खनन में पकडी गयी गाडियो को सासद ने खुद ही छुडवा दिया जिसका कोई मुकदमा या फिर पुलिस ने जीडी में नही दर्ज किया । सासद ने छापेमारी का वीडियो का बनाकर खुद ही मीडिया को दिया जिसकी खबर को मीडिया ने प्रमुखता के दिखाया था । इस मामले में सासद ने 27 अक्टूबर को मीडिया से प्रेस वार्ता किया प्रेस वार्ता के दौरान ही सासंद ने मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ को मा बहन की गाली दिया पुलिस वालो को मा बहन की गाली दिया फिर उसके बाद मीडिया को धमकी भी दिया इस खबर को रोक देना टेलीकास्ट नही करना नही तो अच्छा नही होगा। हालाकि सासंद का यह कोई पहला वाक्या नही सासंद के गाली देने का जिसको मीडिया हमेशा सासंद के करतूत को बेनकाब करता रहा है । इस बार भी मीडिया ने सासंद के भद्दी गालिया देने के मामले को बेनकाब कर दिया । जिसके बाद सासंद ने बदले की भावना के तहत सत्ता के प्रभाव में जिले के चार पत्रकारो पर खनन माफिया का सपोर्ट करने के मामले में मुकदमा दर्ज कर दिया । जिसका विरोध करते हुए पत्रकारो ने आज एक बैठक कर कोतवाली में सासंद के इस फर्जी मुकदमें के विरोध में कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराने की तहरीर दे दिया है । पत्रकारो ने माँग किया है इस गाली बाज सासंद के खिलाफ कार्यवायी हो ।