* आक्रोष4मीडिया भारत का नंबर 1 पोर्टल हैं जो की पत्रकारों व मीडिया जगत से सम्बंधित खबरें छापता है ! आक्रोष4मीडिया को सभी पत्रकार भाइयों की राय और सुझाव की जरूरत है ,सभी पत्रकार भाई शिकायत, अपनी राय ,सुझाव मीडिया जगत से जुड़ी सभी खबरें aakrosh4media@gmail.com व वव्हाट्सएप्प पर भेजें 9897606998... |संपर्क करें 9411111862 .खबरों के लिए हमारे फेसबुक आई.डी https://www.facebook.com/aakroshformedia/ पर ज़रूर देखें *

हरिद्वार प्रेस क्लब पर उत्पीड़न का आरोप, वरिष्ठ पत्रकार का सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन

21-02-2018 19:14:44 पब्लिश - एडमिन



हरिद्वार। धर्म और अध्यात्म की नगरी हरिद्वार की प्रतिष्ठित मीडिया संस्था प्रेस क्लब पर मनमानी और उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए वरिष्ठ पत्रकार और साप्ताहिक समाचार पत्र ‘‘सृष्टि-वक्ता’’ के सम्पादक/प्रकाशक विक्रम छाछर ने सिटी मजिस्टेªट को ज्ञापन सौंपकर न्याय की गुहार लगायी है। छाछर ने कहा कि अगर उसे न्याय न मिला तो वह सिटी मजिस्टेªट कार्यालय के समक्ष धरना देगें। पूर्व में भी प्रेस क्लब के कुछ पदाधिकारियों पर उगाही और तानाशाही का आरोप लगाने के चलते निष्काससित हो चुके विक्रम छाछर ने सिटी मजिस्टेªट को सौंपे ज्ञापन में कहा कि चूंकि वह दलित है इसलिए उनका उत्पीड़न किया जा रहा है।

छाछर ने कहा कि प्रेस क्लब पर कब्जा जमाये कुछ पत्रकारों के कारनामों को लेकर उन्होंने समय समय पर अपने साप्ताहिक समाचार पत्र ‘‘सृष्टि वक्ता’’ में प्रकाशित किया है जिस कारण यह लोग उनसे नाराज रहते हैं और समय समय पर डराते धमकाते रहते हैं। हरिद्वार की पत्रकारिता में तीन दशक से सक्रिय पत्रकार विक्रम छाछर ने आक्रोश मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि उन्होंने हमेशा मिशन पत्रकारिता को प्राथमिकता दी और पत्रकारिता की आड में उगाही करने वाले तथाकथित पत्रकारों के काले कारनामों को उजागर किया जिस कारण वह हमेशा मठाधीश किस्म के पत्रकारों की आंखों में किरकिरी बने रहे। छाछर ने कहा कि हरिद्वार में ऐसे तथाकथित मीडियाकर्मियों की भरमार हो गयी है जो चैनल की आईडी और बेनामी अखबारों के आई कार्ड लिये घूमते हैं और अधिकारियों तथा संतों, प्रापर्टी डीलरों से उगाही करते रहते हैं। विक्रम छाछर ने कहा कि हरिद्वार में हुए बहुचर्चित मंहत सुधीर गिरी हत्याकांड से लेकर रूड़की जेल में गैंगवार में नामजद कुख्यात बदमाशों से तार जुडे होने के कारण कुछ पत्रकारों के नाम पुलिस के सामने आ चुके हैं। छाछर ने कहा कि आज हरिद्वार में ऐसे पत्रकार काफी संख्या में हो गये है जिन्होंने पत्रकारिता की आड में सम्पत्तियां अर्जित की है। ऐसे अनगनित पत्रकार हैं जो रात दिन वसूली में लगे रहते हैं।

विक्रम छाछर ने कहा कि वह न्याय की लड़ाई लड़ते रहेंगे चाहे इसके लिए उन्हें कोर्ट जाना पड़े। उन्होंने कहा कि वह निज हितों के लिए बल्कि पत्रकारिता और प्रेस क्लब की गरिमा को बरकरार रखने के लिए संघर्ष कर रहे हैं और भविष्य में भी करते रहेंगे। छाछर ने कहा कि हरिद्वार प्रेस क्लब को ऐसे तथाकथित मीडियाकर्मियों के चंगुल से मुक्त कराने की जरूरत है जो संतो, फैक्ट्री मालिकों, प्रापर्टी डीलरों और खनन माफियाओं, बिल्डरों और भ्रष्टाचार में संलिप्त अधिकारियों से पत्रकारिता के नाम पर डरा धमका कर जेब गर्म करते रहते हैं। उन्होंने कहा कि अगर ऐसे पत्रकारों की निष्पक्षता जांच से की जाये तो खुलासा हो जायेगा कि आय के ठोस स्त्रोत न होने के बावजूद वह कैसे पंूजीपति बन गये। उन्होंने चेतावनी दी कि पत्रकारिता को ब्लैकमेलिंग के हथियार के रूप् में इस्तेमाल करने वाले तथाकथित पत्रकार बेनकाब होने चाहिए। आये दिन पर्वो और आयोजनों के नाम पर उगाही करने वाले तथाकथित मीडियाकर्मियों का पर्दाफाश होना आवश्यक है। उन्होंने वरिष्ठ पत्रकारों से आग्रह किया कि वह पत्रकारिता की गरिमा की रक्षा को सामने आये ताकि हरिद्वार प्रेस क्लब की प्रतिष्ठा को कलंकित होने से बचाया जा सके।

( पीड़ित पत्रकार विक्रम छाछर की कलम से )

आक्रोष4मीडिया भारत का नंबर 1 पोर्टल हैं जो की पत्रकारों व मीडिया जगत से सम्बंधित खबरें छापता है ! आक्रोष4मीडिया को सभी पत्रकार भाइयों की राय और सुझाव की जरूरत है ,सभी पत्रकार भाई शिकायत, अपनी राय ,सुझाव मीडिया जगत से जुड़ी सभी खबरें aakrosh4media@gmail.com व वव्हाट्सएप्प पर भेजें 9897606998... |संपर्क करें 9411111862 .खबरों के लिए हमारे फेसबुक आई.डी https://www.facebook.com/aakroshformedia/ पर ज़रूर देखें 

अपनी राय नीचे दिये हुए कमेंट बॉक्स में लिखें !




user profile image
22-02-2018 1:34:39

सच मे पत्रकारिता के आयाम बदल चुके है ये पोर्टल अपने आप मे सराहनीय है जो अपनी बेबाक कार्य शैली से कम कर रहा है