मीडिया में महायुद्ध, एक दूसरे को बताया ‘गुंडा’

11-01-2018 19:00:04 पब्लिश - एडमिन


नई दिल्ली। गुजरात में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में जीतकर विधायक बने दलित नेता जिग्नेश मेवाली की हुंकार रैली की खबर करने पहुंची रिपब्लिक टीवी की महिला पत्रकार के साथ हुए र्दुव्यवहार को लेकर दो चैनलों के दरम्यान जुबानी जंग छिड़ गयी। जंग भी ऐसी कि शाब्दिक गरिमा तार तार होती दिख रही है। चैनल के एंकर एक दूसरे को गुंडा बताने पर तुल गये हैं।

मामला तब गर्माया जब जिग्नेश मेवाणी की हुंकार रैली की कवरेज को पहुंची रिपब्लिक टीवी की महिला पत्रकार के संग कुछ लोगों ने बदतमीजी की। महिला पत्रकार का आरोप है कि बदतमीजी करने वालों ने उस पर अश्लील छींटाकशी भी की। इस घटना का वीडियो जारी किया गया जिसमें बदतमीजी करने वाले दो शख्स में से एक एबीपी अंग्रेजी न्यूज चैनल के पत्रकार जैनेन्द्र कुमार का जबकि दूसरा पत्रकार प्रतिष्ठा सिंह के पति अपूर्व का है।प्रतिष्ठा ने ‘जनता का रिपोर्टर’ वेबसाइट पर कॉलम लिखा जिसमें उन्होंने अपने पति को निर्दोष करार देते हुए लिखा कि उन्हें अपने पति पर गर्व है। जुबानी जंग की शुरूआत उस समय हुई जबकि रिपब्लिक टीवी ने अपने प्राइम टाइम शो के दौरान एबीपी न्यूज के संवाददाता का चेहरा दिखाते हुए उसे गुंडा कह दिया। न्यूज चैनलों के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जबकि एक न्यूज चैनल ने दूसरे चैनल के पत्रकार को आरोपित करते हुए गुंडा कहकर सम्बोधित किया। रिपब्लिक टीवी ने अपनी पत्रकार के साथ हुई घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस घटना से जिग्नेश मेवाणी का वास्तविक चेहरा जनता के सामने आ गया है।

रिपब्लिक टीवी की ओर से वीडियो का प्रसारण किये जाने के बाद एबीपी अंग्रेजी न्यूज चैनल के एंकर अभिसार शर्मा ने रिपब्लिक टीवी को सीधे तौर पर निशाना बनाते हुए सक्ष्त टिप्पणी की। अभिशार शर्मा ने रिपब्लिक टीवी के इस आचरण की आलोचना की है। अभिसार की टिप्पणी के अंश इस प्रकार है। बकौल अभिशार शर्माः-‘‘ रिपब्लिक टीवी नामक एक तथाकथित न्यूज चैनल ने न सिर्फ एक निर्दोष व्यक्ति को गुंडा कहा बल्कि अपने प्राइम टाइम शो में एक बेहतरीन पत्रकार जैनेन्द्र कुमार को भी गोला मार मार कर गुंडा बताया।’’ रिपब्लिक टीवी पर व्यंग्य करते हुए अभिसार ने लिखा किः-‘‘ यह चैनल क्या है? कौन है़़? कहां से आ गया? जो कि अपनी मनमर्जी से कुछ भी चलाये और पार्टी विशेष की सुपारी लेकर दूसरे लोगों को बदनाम करे। यह पहली बार हुआ जबकि किसी न्यूज चैनल ने हदे पार करते हुए दूसरे न्यूज चैनल के पत्रकार को गुंडा बताया। अभिसार शर्मा ने ऐसे पत्रकारों को मीडिया के सुपारी वीर बताते हुए लिखा कि इन पर अंकुश लगाने वाला कोई नहीं है। 

दूसरी ओर महिला रिपोर्टर प्रतिष्ठा सिंह भी प्रतिष्ठा की इस जंग में सीधे तौर पर उतर गयी और अपने पति अपूर्व को बेहतरीन इंसान बताते हुए लिखा कि उन्हें अपने पति पर गर्व है और गर्व है उस हर व्यक्ति पर जो रिपब्लिक टीवी का बहिष्कार करता है ऐसे झूठ का बहिष्कार होना ही चाहिए।

अपनी राय नीचे दिये हुए कमेंट बॉक्स में लिखें !